खबरे

IIT दिल्ली ने राजनीति पर बोलने के लिए अशोक स्वैन को बुलाया था, सोशल मीडिया पर बवाल होने पर रद्द हुआ आयोजन

अशोक स्वैन जो की फेक न्यूज़ के लिए खुख्यात है, इनको २३ जनवरी के दिन IIT दिल्ली में प्रस्तावित में खुद के ऑनलाइन लिटरेचर फेस्टिवल ‘लिटराती ‘ में वक्ता के तौर पर आमंत्रित किया था | और आमंत्रित करने के बाद इसे रद्द कर दिया गया | आयोजन रद्द होने के कारन स्वैन नाराज़ लग रहे है | ऐसा कहा जा रहा है जब स्वैन और लेफ्ट प्रोपगैंडानिस्ट को आयोजन में बुलाया गया थो दिल्ली के IIT को सोशल मीडिया का बहुत विरोध सहना पड़ा | जब स्वैन को दिल्ली के IIT ने आमंत्रित किया तो मीडिया उसेर्स ने दिल्ली IIT को JNU की तरह ‘अर्बन नक्सल हब’ बताया था | और ये भी कहा गया की वित्तपोषित संसथान द्वारा ऐसे फेक समाचार फ़ैलाने वाले लोगो को आमंत्रित करना ही शर्मनाक चीज़ है| इसके बाद कही सोशल मीडिया यूज़र्स ने लत्तड लगायी थी |

ashok swain lecturer cancelled

IIT दिल्ली ने राजनीती पर बोलने के लिए अशोक स्वैन को बुलाया था, सोशल मीडिया पर बवाल होने पर रद्द हुआ आयोजन

गुरुवार २० जनवरी २०२२ को अशोक स्वैन नेइस आयोजन को रद्द होने की जानकारी ट्विटरपर की | उनका यह कहना था की जब दिल्ली IIT ने यह आयोजन किया था तो हिन्दू दक्षिणपंतियो ने इसका जमकरविरोध किया, इसके खलाफ अभियान चलाये, इसके कारन ही इस आयोजन को रद्द किया गया पर कोविदके कारन रद्द करने का बहाना दे रहे है  | उन्होंने ये भी कहा था की जब उन्हें दिल्ली से निमंत्रण आया थो उसनिमंत्रण को पाकर हैरानी में थे | IITD ने अपनी वार्षिक व्याख्यायन श्रीलंकामें अजय गुडवर्ती, कवलप्रीत और अशोक स्वैन के साथ ‘पहचान और राजनितिकरुख’ का एक सत्र निर्धारित किया था, पर अब वो रद्द हो गया है |

अशोक स्वैन जो की हॉस्पिटल विश्वविद्यालय में खुद को “पीस एंड कनफ्लिक्ट रिसर्च” का प्रोफेसर कहलाते है वे कैसे फेक न्यूज़ को फ़ैलाने में, झूट को फ़ैलाने में और हिन्दुओ के प्रतिघृणा लासकते है |  २०१८ के समय में उन्होंने ये कहा था की भारत और पाकिस्तान के बिच भारत सरकार राजनितिक फायदे के लिए संघर्ष पैदा कर रहे है | इस विषय में तब पाकिस्तानी मिडिया बहुत हवा दी थी | उस समय इस बात पर स्वैन ने बड़े गर्वसे ये ट्वीट किया था की पाकिस्तानी मीडिया उनके ट्वीट को प्राइम टाइम शो में शामिल किया  जा रहा है |

ये सब ही नहीं बल्कि, पुलिस के द्वारा फेक न्यूज़ बताने के बावजूद भी उन्होंने एक और झूट यह बोला था की मुस्लिम युवक के द्वारा जय श्रीराम का नैरा नहीं लगवाने पर हिंदुत्व वादियों ने उसे आग के हवाले कर डाला | उन पर एक और आरोप यह भी है की नासा से चुनी गयी एक हिन्दू किशोरी का साइबर बुलिंग करना |

Leave a Reply

Your email address will not be published.