Breaking News
Home / खबरे / UP इलेक्शन 2022 – मायावती चुनाव नहीं लड़ेगी, भासपा के 100 उम्मीदवार तय हुए है

UP इलेक्शन 2022 – मायावती चुनाव नहीं लड़ेगी, भासपा के 100 उम्मीदवार तय हुए है

यूपी विधानसभा के लिए बसपा ने 100 उम्मीदवारों का नाम दे दिया है। और इन उम्मीदवारों पर बसपा अध्यक्ष ने मोहर भी लगा दिया है। चुने गए उम्मीदवारों को विधानसभा क्षेत्र का प्रभारी भी बनाया जा रहा है। अगर ऐसा किया जाये तो उन उम्मीदवारों को चुनावी तैयारियों में आखरी रूप में कामियाब हो पाएंगे। इलेक्शन का समय नाज़िक पड़ने के कारण सभी राजनितिक दाल अपनी तैयारियों में जुट गए है। अगर देखा जाये तो ऐसा लग रहा है की इन तयारियो में बसपा आगे निकलता जा रहा है।

mayawati withdraws from elections

जनता के बीच की प्रतिक्रियाओं को जानने के लिए पार्टियों को पहले अपने उम्मीदवारों के आखरी नाम देने होंगे और तो और प्रहरी की ज़िम्मेदारी भी पार्टी के लिए तय किये गए उम्मीदवारों को ही दिया गया है। जनता के बीच एक बार जाने के बाद ही तो पता लगेगा की जनता की उम्मीद क्या है और जनता की उम्मीद देखकर ही पार्टिया आगे की रणनीति खेल सकेंगी।

UP इलेक्शन 2022 – मायावती चुनाव नहीं लड़ेगी, भासपा के 100 उम्मीदवार तय हुए है

विधानसभा चुनाव के अनाउंसमेंट के बाद चुनावी मैदान में बसपा अध्यक्ष मायावती ने नहीं उतरने का निर्णय लिया गया है। जब चुनावी तारिक तय हो गयी, तभी चुनावी सभाओ का कार्यक्रम मायावती द्वारा आयोजित किये जायेंगे। ये चुनावी तारिक चुनावी आयोग की और से ऐलान होगये है। BSP के महासचिव सतीश चंद्र का ये कहना है की, BJP, SP और कांग्रेस पार्टियों ने विधानसभा के लिए टिकट लेकर नेताओ को लुभाया है। इनका कहना है की इन विपक्षी दलों वालो ने एक सीट पर १० टिकट देने का वादा किया है, पर समय रहते उनकी रणनीति का किस्सा बहार आया है। और वो ये भी कह रहे है की उनलोगो ने उम्मीदवारों की घोषणा इसलिए भी नहीं की है ताकि उन्हें लगता होगा की अन्य दलों को इसका विद्रोह हो सकता है।

सतीश चंद्र ने ये भी कहा है की BSP चुनाव जीतने के अपनाया सर्वजन हिताय-सर्वजन सुखाय का फार्मूला अपना कर चुनाव की तैयारी कर रहे है। यह फार्मूला सोशल इंजीनियरिंग का फार्मूला है। मायावती ने अल्पसंख्या समुदाय का समर्थन हासिल करने के लिए चार विधान सभा सीटों पर मुस्लिम उम्मीदवार खड़े किये है. उन चार मुस्लिम उम्मीदवार सीट्स के नाम कुछ इस तरह है – lucknow uttar, lucknow paschim, lucknow का talaab और सरोजिनी नगर। देखा जाये to 2017 के विधानसभा चुनाव में सपा ने महज 19 सीटों पर ही जीत हासिल की थी।

About Kavitha Akkula

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *