खबरे

तमिल नाडु के 12वी की छात्रा ने की आत्महत्या, मिशनरी स्कूल में पढ़ना है तो ईसाई धर्म अपनाना होगा

12वी कक्षा में पड़ने वाली एम्.लावण्या नाम की छात्र ने की आत्महत्या। जानते है इसका पूरा सच। यह घटना तमिलनाडु के तंजावुर में सेक्रेड हार्ट हायर सेकेंडरी स्कूल, तिरुकत्तुपली में देखा गया है। हुआ ये की स्कूल के अधिकारियो ने लावण्या को ईसाई धर्म में खुद को बदलने के लिए दबाव डाला। और इस बात को लावण्या ने इंकार कर दिया था, उसके इंकार करने की वजह से स्कूल के अधिकारियो ने लावण्या को प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। लड़की अधिकारियो के प्रताड़ित से तंग आ चुकी थी। इस विषय से तंग आकर आखिरकार लावण्या ने अपनी जान दे दी। सूत्रों के हिसाब से ये बात सामने आयी है की, अधिकारियो ने लावण्या को यह कहकर धमकाया था की अगर उसे स्कूल में अपनी पढ़ाई आगे जारी रकना है तो उसे ईसाई धर्म को अपनाना होगा।

तमिलनाडुः स्कूल ने ईसाई बनने के लिए किया मजबूर, तो परेशाना छात्रा ने लगाया मौत को गले

आईये आपको बतादे इस घटना का पूरा सच, संत माइकल गर्ल्स हॉस्टल में पीछे पांच साल से रह रही थी लावण्या। उसके स्कूल के पास में ही यह हॉस्टल रहता है। ईसाई मिशनरी स्कूल जो की सरकारी सहायता से प्राप्त है वो लोग लावण्या को ईसाई धर्म में खुद को बदलने का दबाव दाल रहे थे। जब लावण्या ने ईसाई धर्म को अपनाने से इंकार किया तो स्कूल प्रशासन उससे नाराज़ होगया और उसके पोंगल के छुट्टियों को भी रद्द कर दिया।

tn girl suicide forcing her to convert into christian

इस पोंगल की छुट्टियो में लावण्या अपने घर जाना चाहती थी। पर प्रशासन ने उससे स्कूल में ही रखकर खाना बनाना, बर्तन धोना और शौचालय के सफाई जैसे काम करने पर मजबूर कर दिया। इन सब से तंग आकर लावण्या ने अपना जीवन लीला समाप्त करने का निर्णय लिया और इसके लिए उसने अपने खुद के स्कूल के बगीचे के लिए इस्तेमाल होने वाले कीटनाशक का सेवन कर लिया।

लावण्या ने ये काम ९ जनवरी को किया था और उसी रात जब उसे लगातार उलटी और बेचैनी होने लगी थी उसे पास के क्लिनिक में बताया गया। उनके माता पिता को उनकी वार्डन ने बुलाया और कहा की लावण्या को घर लेजाए. वहा से लेजानेके बाद लावण्या को खुद के गांव में तंजौर के सरकारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया.

लावण्या का इलाज चल ही रहा था पर फेफड़ो में 85 % जहर तभी पहुंच चूका था और सूत्रों के अनुसार 19 जनवरी 2022 को लावण्या ने हॉस्पिटल में अंतिम सास ली। इसके खिलाफ करवाई करने की मांग को लेकर परिजनों ने प्रदर्शन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.